गुरुग्राम या गोबरग्राम

गुरुग्राम या गुड़गांव इसको लगभग सभी लोग जानते है क्योकि यंहा बड़ी-बड़ी कम्पनिया और अच्छी नौकरिया उपलब्ध है | साइबर सिटी जो देखता उसे लगता हाँ कुछ तो विकास हुआ है लेकिन यह विकास सिर्फ बिल्डरों के द्वारा किया गया है |

साइबर सिटी देखने पर लगता है ये गुरुग्राम है लेकिन वंही बड़ी मुश्किल से लोहे की तारों के निचे से या उनके ऊपर से गाड़ियों से बचते हुए जब कोई हाइवे पार करके उद्योग विहार तक पहुँचता है और उसे देख कर लगता है की इसका नाम गोबरग्राम क्यों नहीं रखा गया |

जब थोड़ी सी बारिश हो जाती है तो पूरा गुरुग्राम बदल कर गोबरग्राम हो जाता है | यातायात की कोई खास सुविधा नहीं, सड़के टूटी फूटी बारिश पानी निकासी की कोई व्यस्था नहीं जिसकी वजह से सडको  पर बाढ़ आ जाती है |

ये तो बहुत छोटा सा कारण मैंने बताया है | गुरुग्राम को गोबरग्राम बुलाने का जो वंहा रहे है उनके पास और भी कारण होंगे |