वादा तेरा वादा, इस वादे पे मारा गया आम इंसान

कांग्रेस के ज्यादातर वायदा जो अब होगा न्याय अभियान के तहत है वो पहले से ही हो रहा है जैसे 12वी तक की शिक्षा मुफ्त सरकारी स्कूल में , सरकारी अस्पताल में मुफ्त इलाज, रोजगार गारंटी (मनरेगा ), आज भी काम शुरू करने के लिए अनुमति की जरुरत नहीं होती, GST आज भी सरल है, अब किसी को समझ में न आये तो इसमें क्या किया जा सकता है | 33% महिलाओं को आरक्षण देने का प्रस्ताव 10 साल पहले लेके आयी थी जो अपने कार्यकाल में नहीं कर पायी |

अब आते है कांग्रेस के सबसे खतरनाक वादे पे जिसमे राहुल गांधी वादा कर रह है हर गरीब को 6000 रुपये महीना साल के 72000 रुपये मिलेंगे घर बैठे | अगर ऐसा हो जाता है तो काम करने वाले लोग नहीं मिलेंगे क्योकि अगर घर बैठे ही 6000 रुपये महीने मिलेंगे तो बाहर जा के काम करने की क्या जरुरत होगी |

अब जरा सोचिये ये पैसा कहाँ से आएगा, आप सोच रहे होंगे स्विस बैंक में जो पैसा जमा है वो सब गरीब परिवारों को 72000 रुपये हर साल किस्तों में मिलेगा पर ऐसा नहीं है ये पैसा (Middle class families) मध्यमवर्गीय परिवारों की जेब से जायेगा टेक्स के रूप में |मतलब मध्यमवर्गीय परिवारों की और वाट लगेगी क्योंकि सबसे गंदी स्थति इनकी ही होती है |