आज भगत सिंह दुखी है

आज भगत सिंह दुखी है क्योंकि उनकी तुलना चंद टुटपुंजिये नेताओ ने उन घटिया लोगो से कर दी जो देश को तोड़ने वालो और आतंवादियों का समर्थन करने वालो का साथ दे रहे है । उन्होंने कहा इस देश की खातिर हम तीनो ने अपनी जान दे दी क्या इसी दिन के लिए की वोट के चक्कर में हमारी तुलना उस लड़के से कर दी जाये जिनके अंदर देश के प्रति सम्मान नहीं है, उस लड़के से जो अपने कॉलेज के कैम्पस में खुले में सु-सु करते हुए कोई लड़की देख जाये और उसके बोलने से उससे गलत व्यवहार करता है तथा लड़की की शिकायत पे उसे 3000 जुर्माना भरना पड़ता है, उस लड़के से जो देश के सैनिको का बलात्कारी कह कर अपमान करता है, इस घटिया लड़के से उस नेता ने ये क्यों नहीं पूछा आज जो तू चिल्ला-चिल्ला उन्हें गाली दे रहा ये उन्ही की देन है जो आज तू इस जेएनयू में चिल्ला रहा है, लेकिन नहीं कुछ नेता अपने वोट के चक्कर में उनकी तुलना मुझसे कर के उन्हें देशभक्त साबित करने पर तुले है। हमने निस्वार्थ भाव से देश की सेवा की थी लेकिन क्या कलयुग आ गया है स्वार्थी लोग मेरी तुलना करने लायक हो गए है ।

bhagat singh sukhdev rajguru

अंत में जाते-जाते एक बात और कहूँगा ये जो नेता मेरी तुलना इन देश के दुश्मनों से कर रहे वो करना बंद कर दे क्योकि मेरा सर्वाधिकार सिर्फ इस देश की जनता है, हाँ ग़ांधी और नेहरू की तुलना कर सकते हो क्योकि उन पर सर्वाधिकार तुम्हारा है । जय हिन्द (भगत सिंह)

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *